WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Home » Govt schemes » पहली बेटी होने पर ₹50,000 देगी सरकार, भाग्यलक्ष्मी योजना जाने पूरी जानकारी?

पहली बेटी होने पर ₹50,000 देगी सरकार, भाग्यलक्ष्मी योजना जाने पूरी जानकारी?

हमारे देश में हमेशा लड़कियों को अभिशाफ़ माना गया है, इसके लिए हम आपको बता दे की भ्रूण समस्या बहुत ही ज्यादा बढ़ गई है, इन सभी को देखते हुए हमारी यूपी सरकार ने भाग्यलक्ष्मी योजना की शुरुआत की है, जिसके माध्यम से उत्तरप्रदेश की सरकार ने गरीब परिवार में 50 हजार तक की धनराशि लड़की होने पर प्रदान करती है, ताकि महिलाओ के प्रति हो रहे भेद भाव को ख़त्म कर सके।

पहली बेटी होने पर ₹50,000 देगी सरकार, भाग्यलक्ष्मी योजना जाने पूरी जानकारी?

लड़कीयो के जन्म की सख्या बहुत ही कम होती जा रही है, इन सभी को देखते हुए यूपी सरकार ने पहली और दूसरी लड़की होने पर 50 हजार की धनराशि के साथ साथ माँ को भी 51 सो रुपए की धनराशि प्रदान की जाती है, ताकि बच्चे को अच्छी शिक्षा मिल सके, अगर आप भी उत्तरप्रदेश के मूल निवासी है, और आपके घर में पहला बच्चा लड़की पैदा हुई है तो आप हमारे इस वीडियो का लास्ट तक देखे जिससे आसानी से सरकार की तरह से मिल रही धनराशि को प्राप्त कर सकते है, तो चलिए शुरू करते है,

किस प्रकार पहली बेटी पैदा होने से कितने पैसे मिलते है?

पहली बेटी पैदा होने पर यूपी सरकार के द्वारा 50 हजार की धनराशि प्रदान की जाती है, यानी की पहली या दूसरी लड़की पैदा होने पर सरकार 50 हजार के साथ साथ उनकी माँ को भी धनराशि प्रदना करती है, वह धनराशि माँ को 51 सो रुपए प्रदान की जाती है, ताकि बच्चे का भरण पोषण अच्छे से किया जा सके, यह धनराशि बच्चे के 18 वर्ष के बाद किस्तो में दी जाती है, तो अगर आप भी इस योजना का फायदा उठाना चाहते है और इसके आवेदन करने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट्स होने चाहिए इसके बारे में जान लेते है।

भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज?

  1. आधार कार्ड
  2. राशन कार्ड
  3. बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  4. निवास प्रमाण पत्र
  5. आय प्रमाण पत्र
  6. मोबाईल नंबर
  7. बैंक खाता पासबुक
  8. पासपोर्ट साइज फोटो
  9. माता पिता का आधार कार्ड

ये सभी जरूरी डॉक्यूमेंट आपके पास होने चाहिए, अब पात्रता के बारे में जान लेते, कौन से लोग इस योजना के पात्र है।

भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन करने के लिए पात्रता

  • सबसे पहले पैदा हुई लड़की के माता पिता को उत्तरप्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • पैदा हुई लड़की के माता का विवाह कम से कम 18 वर्ष में हुआ होना चाहिए।
  • पैदा हुई बच्ची को किसी भी प्रकार की कोई बीमारी नहीं होनी चाहिए।
  • इसके बाद परिवार की वार्षिक आय कम से कम 2 लाख रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • हुई लड़की 2006 के बाद गरीबी रेखा कार्ड वाले घर में जन्मी हुई होनी चाहिए, ये सभी पात्रता वाली लड़किया ही लाभ ले सकती है।

तो अगर आप भी इस योजना का फायदा उठाना चाहते है और इसके लिए आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन 2 तरीके से कर सकते है।

भाग्यलक्ष्मी ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया?

अगर आप भी भाग्यलक्ष्मी ऑफलाइन योजना में आवेदन करना चाहते है, तो सबसे पहले आप को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में जाकर इस भाग्यलक्ष्मी योजना से जुड़ी हुई सभी जानकारी को पता कर लेना है।

इसके बाद आप को सभी जानकारी पता करने के बाद वहाँ से इस भाग्यलक्मी योजन का आवेदन फॉर्म प्राप्त कर लेना है,

फिर फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को आप को अच्छे से पढ़कर बिना किसी काट छाट के साफ साफ भर लेना है,

इसके बाद फॉर्म को भरने के बाद आप को इस फॉर्म को एक बार अच्छे से पूरा चेक कर लेना है, ताकि कही कोई गलती हो उसे सुधारा जा सके,

इसके बाद आप को फॉर्म में पूछे गए सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर लेना है,

इसके बाद आप को इस कम्प्लीट फॉर्म को महिला एवं बाल विकास के मंत्रालय में जाकर वह वहाँ जमा कर देना है, इस प्रकार आप आसानी से इस भाग्यलक्ष्मी योजना में ऑफलाइन आवेदन कर सकते है।

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए क्या है प्रक्रिया।

भाग्यलक्ष्मी ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया?

अगर आप भी भाग्यलक्ष्मी योजना में ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है। तो आप इस महिलाकल्याण. यूपी.एनआईसी.इन पर जाकर आसानी से इस योजना में आवेदन कर सकते है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Share on:

Leave a Comment