Home » कंप्यूटर जानकारीटेक्नोलॉजी » रिलायंस जियो ने भारत में AI सुपर कंप्यूटर बनाने के लिए NVIDIA के साथ साझेदारी की

रिलायंस जियो ने भारत में AI सुपर कंप्यूटर बनाने के लिए NVIDIA के साथ साझेदारी की

अरबपति द्वारा संचालित रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 8 सितंबर को कहा कि वह भारत ं कृत्रिम बुद्धिमत्ता को बढ़ाने के लिए अमेरिकी चिप निर्माता NVIDIA के साथ सहयोग करेगी।

mukesh Ambani 1

एनवीडिया ने एक विज्ञप्ति में कहा, “कंपनियां एआई बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए मिलकर काम करेंगी जो आज भारत में सबसे तेज से भी अधिक शक्तिशाली है।”

गठबंधन द्वारा कृत्रिम बुद्धिमत्ता और सेमीकंडक्टर चिप्स के लिए भारत के लक्ष्यों को आगे बढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा, सहयोग एक स्वदेशी फाउंडेशन बड़े भाषा मॉडल के निर्माण का समर्थन करेगा जो जेनरेटिव अल अनुप्रयोगों के लिए डिज़ाइन किया गया है और विभिन्न राष्ट्रीय भाषाओं पर प्रशिक्षित है।

समझौते के अनुसार, NVIDIA सबसे परिष्कृत एआई मॉडल बनाने के लिए सीपीयू, जीपीयू, नेटवर्किंग और एआई ऑपरेटिंग सिस्टम और फ्रेमवर्क सहित एंड-टू-एंड एआई सुपरकंप्यूटर तकनीक की पेशकश करेगा। जियो उपभोक्ता संपर्क और पहुंच के साथ-साथ एआई क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रबंधन और रखरखाव का प्रभारी होगा।

अत्याधुनिक GH200 ग्रेस हॉपर सुपरचिप और DGX क्लाउड, AI सुपरकंप्यूटिंग के लिए क्लाउड सेवा, तक पहुंच NVIDIA द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी।

रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड के अध्यक्ष आकाश अंबानी ने कहा कि और NVIDIA दोनों एक अत्याधुनिक AI क्लाउड आर्किटेक्चर ंगे जो सुरक्षित, स्थायी और भारत की विशेष क्षमता के लिए अत्यधिक प्रासंगिक है।

उन्होंने कहा, “एक साथ मिलकर, हम एक उन्नत एआई क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करेंगे जो सुरक्षित, टिकाऊ और भारत के अद्वितीय अवसरों के लिए गहराई से प्रासंगिक है।

यह अत्याधुनिक मंच स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा से लेकर उद्यम समाधान तक सभी क्षेत्रों में एआई-संचालित नवाचारों में तेजी लाने में उत्प्रेरक होगा। हमारा लक्ष्य देश भर के शोधकर्ताओं, स्टार्ट-अप और उद्यमों के लिए एआई को सुलभ बनाना है, जिससे एआई पावरहाउस बनने की दिशा में भारत की यात्रा तेज हो सके।

Related Posts

Leave a Comment