WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Home » टेक्नोलॉजी » 5G Bands क्या है प्रकार और भारत में कितने बैंड्स है?

5G Bands क्या है प्रकार और भारत में कितने बैंड्स है?

5G बैंड्स क्या है 5G Bands के उपयोग और यह कितने प्रकार के होते हैं। 5G फोन लेते समय आपने देखा होगा स्पेसिफिकेशन में 5G बैंड्स का बारे में जरूर दिया गया होता। यह बैंड्स 5जी के प्रकार होते हैं जोकि बैंड कई ग्रुप में विभाजित किए जाते हैं। और इन्हीं बैंड के माध्यम से तय होता है कि हमें कितना स्पीड प्रदान किया जाता है।

5G Bands kya hai

5G बैंड्स क्या है What is 5G Bands in Hindi?

5G वायरलेस कम्युनिकेशन के लिए एक तकनीक है जो कई फ्रीक्वेंसी बैंड पर काम करती है। विशिष्ट आवृत्ति बैंड जो 5G उपयोग करता है, विशिष्ट 5G नेटवर्क और भौगोलिक स्थिति पर निर्भर करता है। कुछ सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले 5G बैंड हैं:

  • उप-6GHz बैंड: ये निम्न आवृत्ति बैंड व्यापक कवरेज प्रदान करते हैं और 5G नेटवर्क की व्यापक पूर्ति के लिए उपयोग किए जाते हैं।
  • मिड-बैंड स्पेक्ट्रम: मिड-बैंड स्पेक्ट्रम के बीच आवृत्तियों की विशेषता है

5G तकनीक कई फ़्रीक्वेंसी बैंड पर काम करती है, चलिए आगे जान लेते हैं 5G बैंक के प्रकार क्या क्या है।

5g बैंड का प्रकार

5G तकनीक कई फ़्रीक्वेंसी बैंड पर काम करती है, जिनमें शामिल हैं:

1.UP-6GHz Bands:

ये निम्न आवृत्ति बैंड व्यापक कवरेज प्रदान करते हैं और 5G नेटवर्क की व्यापक तैनाती के लिए उपयोग किए जाते हैं। उन्हें लो-बैंड स्पेक्ट्रम के रूप में भी जाना जाता है और इसमें 6 गीगाहर्ट्ज से कम आवृत्तियां शामिल हैं, जैसे 600 मेगाहर्ट्ज, 700 मेगाहर्ट्ज और 800 मेगाहर्ट्ज बैंड।

2.Mid-Band Spectrum:

मिड-बैंड स्पेक्ट्रम की विशेषता 1 और 6 गीगाहर्ट्ज के बीच आवृत्तियों की विशेषता है और यह गति और कवरेज को संतुलित करने के लिए है। इसे अक्सर 5G के लिए “स्वीट स्पॉट” कहा जाता है। इस बैंड में 2.5 GHz, 3.5 GHz और 4.9 GHz बैंड जैसी फ्रीक्वेंसी शामिल हैं।

3.mmWave Band:

ये 24 गीगाहर्ट्ज से ऊपर उच्च आवृत्ति बैंड हैं जो बेहद तेज गति प्रदान करते हैं लेकिन सीमित सीमा होती है और दीवारों या पेड़ों जैसी बाधाओं से अवशोषित हो सकती है। आभासी वास्तविकता और संवर्धित वास्तविकता जैसे उच्च-बैंडविड्थ अनुप्रयोगों का समर्थन करने के लिए वे अक्सर घने शहरी क्षेत्रों में उपयोग किए जाते हैं। mmWave Band के उदाहरणों में 28 गीगाहर्ट्ज, 37 गीगाहर्ट्ज, 39 गीगाहर्ट्ज और 47 गीगाहर्ट्ज बैंड शामिल हैं।

प्रत्येक 5G Network Operator अपनी विशिष्ट आवश्यकताओं और नियामक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विभिन्न 5G बैंड का उपयोग कर सकता है। geographical situation और अन्य वायरलेस सेवाओं की उपस्थिति के आधार पर उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट बैंड भी भिन्न हो सकते हैं।

कितने 5g बैंड है?

कई फ़्रीक्वेंसी बैंड हैं जो 5G Technique पर काम करते हैं, जिनमें सब -6GHz बैंड, मिड-बैंड स्पेक्ट्रम और mmWave बैंड शामिल हैं। 5G बैंड की सटीक संख्या भौगोलिक स्थिति और प्रश्न में विशिष्ट 5G नेटवर्क के साथ-साथ क्षेत्र में अन्य वायरलेस सेवाओं की उपस्थिति के आधार पर भिन्न हो सकती है।

उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका में, संघीय संचार आयोग (FCC) ने 5G उपयोग के लिए आवृत्तियों की एक श्रृंखला आवंटित की है, जिसमें 600 MHz, 700 MHz, और 28 GHz, 37 GHz, 39 GHz, और 47 GHz मिलीमीटर वेव ( एमएमवेव) बैंड। यूरोप में, यूरोपीय दूरसंचार मानक संस्थान (ETSI) ने भी 5G उपयोग के लिए आवृत्तियों की एक श्रृंखला की पहचान की है, जिसमें 700 MHz, 3.5 GHz, और 26 GHz mmWave बैंड शामिल हैं।

संक्षेप में, 5G Bands की संख्या अलग-अलग हो सकती है, लेकिन विशिष्ट देश या क्षेत्र के आधार पर यह आमतौर पर कई से लेकर कई दर्जन तक होती है।

5g में 11 बैंड का मतलब क्या है?

11 5G Bands विशिष्ट फ्रीक्वेंसी रेंज को संदर्भित करते हैं जिन्हें 5जी वायरलेस संचार प्रौद्योगिकी के लिए आवंटित किया गया है। भौगोलिक स्थिति और क्षेत्र में अन्य वायरलेस सेवाओं की उपस्थिति के आधार पर 5G के लिए उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट आवृत्ति बैंड भिन्न हो सकते हैं।

उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका में, संघीय संचार आयोग (FCC) ने 5G उपयोग के लिए 11 आवृत्ति बैंड आवंटित किए हैं, जिसमें 600 MHz, 700 MHz, और 28 GHz, 37 GHz, 39 GHz, और 47 GHz मिलीमीटर तरंग (mmWave) शामिल हैं। ) बैंड।

यूरोप में, यूरोपीय दूरसंचार मानक संस्थान (ETSI) ने भी 5G उपयोग के लिए आवृत्तियों की एक श्रेणी की पहचान की है, जिसमें 11 या अधिक बैंड शामिल हो सकते हैं।

11 5G बैंड, या किसी भी विशिष्ट संख्या में बैंड, 5G उपयोग के लिए निर्दिष्ट आवृत्तियों की श्रेणी को संदर्भित करते हैं और 5G Network Operator द्वारा उपयोग के लिए उपलब्ध हैं। ये बैंड 5G नेटवर्क की तैनाती के लिए महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि ये 5G को प्रभावी ढंग से संचालित करने और उच्च गति और कम विलंबता जैसे अपेक्षित लाभ प्रदान करने के लिए आवश्यक स्पेक्ट्रम प्रदान करते हैं।

5g में 13 बैंड का मतलब क्या है?

13 5जी बैंड विशिष्ट फ्रीक्वेंसी रेंज को संदर्भित करते हैं जिन्हें 5जी वायरलेस संचार प्रौद्योगिकी के लिए आवंटित किया गया है। भौगोलिक स्थिति और क्षेत्र में अन्य वायरलेस सेवाओं की उपस्थिति के आधार पर 5G के लिए उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट आवृत्ति बैंड भिन्न हो सकते हैं।

उदाहरण के लिए, कुछ देशों में, सरकार या नियामक निकायों ने 5G उपयोग के लिए 13 या अधिक फ़्रीक्वेंसी बैंड आवंटित किए हैं, जिसमें फ़्रीक्वेंसी की एक विस्तृत श्रृंखला शामिल है, जिसमें उप-6GHz बैंड और mmWave बैंड दोनों शामिल हैं। इन बैंडों के आवंटन का उद्देश्य 5G नेटवर्क ऑपरेटरों को 5G नेटवर्क तैनात करने और उच्च गति और कम विलंबता जैसे अपेक्षित लाभ प्रदान करने के लिए आवश्यक स्पेक्ट्रम प्रदान करना है।

यह ध्यान देने योग्य है कि 5G Bands की सटीक संख्या देशों और क्षेत्रों के बीच भिन्न हो सकती है, और संख्या 13 केवल एक उदाहरण है। उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट बैंड विशिष्ट 5G नेटवर्क और प्रत्येक स्थान में नियामक आवश्यकताओं पर भी निर्भर हो सकते हैं।

Highest 5g Bands क्या है?

5G वायरलेस संचार प्रौद्योगिकी के लिए उपयोग किया जाने वाला उच्चतम आवृत्ति बैंड मिलीमीटर वेव (mmWave) बैंड है। ये उच्च आवृत्ति बैंड हैं, आमतौर पर 24 गीगाहर्ट्ज से ऊपर, जो बेहद तेज गति प्रदान करते हैं लेकिन सीमित सीमा होती है और दीवारों या पेड़ों जैसी बाधाओं से अवशोषित हो सकती है।

5G के लिए उपयोग किए जाने वाले mmWave बैंड के उदाहरणों में 28 GHz, 37 GHz, 39 GHz और 47 GHz बैंड शामिल हैं। ये बैंड सघन शहरी क्षेत्रों के लिए आदर्श हैं जहां वर्चुअल रियलिटी और संवर्धित वास्तविकता जैसे उच्च-बैंडविड्थ अनुप्रयोगों की उच्च मांग होने की उम्मीद है।

यह ध्यान देने योग्य है कि जहाँ mmWave बैंड उच्चतम गति प्रदान करते हैं, उनके पास सबसे छोटी सीमा भी होती है और बाधाओं से प्रभावित हो सकते हैं। नतीजतन, एमएमवेव बैंड पर भरोसा करने वाले 5G Network आमतौर पर घनी आबादी वाले शहरी क्षेत्रों में तैनात किए जाते हैं, जहां उच्च आवृत्ति संकेतों को अपेक्षाकृत कम दूरी पर प्रसारित किया जा सकता है।

अन्य क्षेत्रों में, जहां कवरेज अधिक महत्वपूर्ण है, निम्न आवृत्ति बैंड जैसे सब-6GHz बैंड और मिड-बैंड स्पेक्ट्रम का उपयोग इसके बजाय किया जा सकता है।

भारत में कितने 5g बैंड है?

भारत में, 5G deployment

के लिए कई फ़्रीक्वेंसी बैंड आवंटित किए गए हैं, जिनमें सब-6GHz और मिलीमीटर वेव (mmWave) बैंड दोनों शामिल हैं। भारत में 5G उपयोग के लिए निम्नलिखित फ्रीक्वेंसी बैंड निर्धारित किए गए हैं:

  1. 3.3-3.6 GHz: इसे भारत में 5G परिनियोजन के लिए एक प्रमुख बैंड माना जाता है, क्योंकि यह गति और कवरेज के बीच एक अच्छा संतुलन प्रदान करता है।
  2. 24.25-28.5 GHz: यह mmWave बैंड है और वर्चुअल रियलिटी और ऑगमेंटेड रियलिटी जैसे उच्च-बैंडविड्थ अनुप्रयोगों के लिए आदर्श है।
  3. 3300-4200 MHz: यह बैंड भारत में 5G उपयोग के लिए भी नामित है।
  4. 450 मेगाहर्ट्ज: इस लो-बैंड स्पेक्ट्रम का उपयोग ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक कवरेज प्रदान करने के लिए किया जाता है।

यह ध्यान देने योग्य है कि भारत में 5G बैंड का आवंटन बदल सकता है क्योंकि नियामक वातावरण विकसित होता है, और 5G Ecosystem आगे विकसित होता है। प्रत्येक ऑपरेटर द्वारा उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट 5G बैंड प्रत्येक स्थान पर उपलब्ध स्पेक्ट्रम और नियामक आवश्यकताओं पर भी निर्भर हो सकते हैं।

प्रत्येक 5G Network ऑपरेटर अपनी विशिष्ट आवश्यकताओं और नियामक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विभिन्न 5G Bands का उपयोग कर सकता है। भौगोलिक स्थिति और अन्य वायरलेस सेवाओं की उपस्थिति के आधार पर उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट बैंड भी भिन्न हो सकते हैं।

सबसे अच्छा 5G बैंड कौन सा है?

कोई एकल “सर्वश्रेष्ठ” 5G Bands नहीं है क्योंकि 5G के लिए सर्वश्रेष्ठ बैंड विभिन्न कारकों पर निर्भर करेगा जैसे परिनियोजन वातावरण, वांछित कवरेज और गति, और प्रत्येक स्थान में नियामक आवश्यकताएं।

आमतौर पर, उच्च-आवृत्ति मिलीमीटर तरंग (mmWave) बैंड, जैसे कि 28 GHz और 39 GHz बैंड, सबसे तेज़ गति प्रदान करते हैं, लेकिन इसकी सीमित सीमा होती है और इसे दीवारों या पेड़ों जैसी बाधाओं द्वारा अवशोषित किया जा सकता है। नतीजतन, एमएमवेव बैंड आमतौर पर घनी आबादी वाले शहरी इलाकों में तैनात किए जाते हैं जहां उच्च आवृत्ति संकेतों को अपेक्षाकृत कम दूरी पर प्रेषित किया जा सकता है।

कम आवृत्ति बैंड जैसे सब-6GHz बैंड और मिड-बैंड स्पेक्ट्रम का उपयोग आमतौर पर व्यापक कवरेज प्रदान करने और बाधाओं के माध्यम से बेहतर पैठ बनाने के लिए किया जाता है। इन बैंडों का उपयोग ग्रामीण क्षेत्रों में या उन वातावरणों में किया जा सकता है जहाँ कवरेज गति से अधिक महत्वपूर्ण है।

अंततः, किसी दिए गए परिनियोजन के लिए Best 5G Bands स्थानीय विनियामक वातावरण, स्पेक्ट्रम की उपलब्धता, वांछित कवरेज और गति, और प्रत्येक परिनियोजन की विशिष्ट आवश्यकताओं सहित विभिन्न कारकों पर निर्भर करेगा।

क्या स्मार्टफोन में 5g के 2 बैंड पर्याप्त हैं?

5G के दो बैंड पर्याप्त हैं या नहीं यह कई कारकों पर निर्भर करता है, जैसे वांछित कवरेज, गति और नेटवर्क की क्षमता, साथ ही विशिष्ट परिनियोजन वातावरण।

दो 5G Bands L गति और कवरेज के बीच एक अच्छा संतुलन प्रदान कर सकते हैं, और 5G सेवाओं और अनुप्रयोगों की एक श्रृंखला का समर्थन कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, एक बैंड का उपयोग सघन शहरी क्षेत्रों में उच्च गति कवरेज प्रदान करने के लिए किया जा सकता है, जबकि दूसरे बैंड का उपयोग ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक कवरेज प्रदान करने या बाधाओं को भेदने के लिए किया जा सकता है।

हालांकि, कुछ मामलों में, अधिक मांग वाले 5G अनुप्रयोगों, जैसे आभासी वास्तविकता या संवर्धित वास्तविकता, या उच्च घनत्व वाले क्षेत्रों में पर्याप्त क्षमता और नेटवर्क प्रदर्शन सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त बैंड की आवश्यकता हो सकती है। इन मामलों में, प्रत्येक परिनियोजन की विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अतिरिक्त 5G Bands की आवश्यकता हो सकती है।

अंततः, किसी दिए गए परिनियोजन के लिए आवश्यक 5G bands की संख्या स्थानीय विनियामक वातावरण, स्पेक्ट्रम की उपलब्धता, वांछित कवरेज और गति, और प्रत्येक परिनियोजन की विशिष्ट आवश्यकताओं सहित विभिन्न कारकों पर निर्भर करेगी।

उप-6GHz बैंड क्या है?

ये निम्न आवृत्ति बैंड व्यापक कवरेज प्रदान करते हैं और 5G नेटवर्क की व्यापक तैनाती के लिए उपयोग किए जाते हैं।

मिड-बैंड स्पेक्ट्रम क्या है?

मिड-बैंड स्पेक्ट्रम की विशेषता 1 और 6 गीगाहर्ट्ज के बीच आवृत्तियों की विशेषता है और यह गति और कवरेज को संतुलित करने के लिए आदर्श है। इसे अक्सर 5G के लिए “स्वीट स्पॉट” कहा जाता है।

एमएमवेव बैंड क्या है?

ये 24 गीगाहर्ट्ज से ऊपर उच्च आवृत्ति बैंड हैं जो बेहद तेज गति प्रदान करते हैं लेकिन सीमित सीमा होती है और दीवारों या पेड़ों जैसी बाधाओं से अवशोषित हो सकती है। आभासी वास्तविकता और संवर्धित वास्तविकता जैसे उच्च-बैंडविड्थ अनुप्रयोगों का समर्थन करने के लिए वे अक्सर घने शहरी क्षेत्रों में उपयोग किए जाते हैं।
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Share on:

Leave a Comment