90Hz Display Refresh Rate क्या है फ़ोन में इसके फायदे क्या है ?

90hz Display Refresh rate Phones– मोबाइल फोन के लिए इन दिनों 90Hz Display की काफी चर्चा है। क्या आप जानते हैं नही जानते तो चलिए जान जानते हैं। 90hz Screen Refresh rate Display क्या है। मोबाइल या टीवी के डिस्प्ले पर आपको जो भी कुछ दिखाई देता है। वह कई प्रोसेस से होकर गुजरता है Display Final Process है।

90hz-display-refresh-rate-kya-hai

पहले बैकग्राउंड में इसके लिए कई तकनीकों का प्रयोग किया जाता है। इसी में एक प्रोसेस है। रेंडर और Hz rate को मापने का तरीका इस रेंडर की प्रक्रिया को एक्सप्रेस रेट कहा जाता है अर्थात 1 सेकंड में इमेज और ग्राफिक्स कितनी बार Render हो रही है।

90Hz Display Refresh Rate क्या है

आसान शब्दों में Refresh rate का मतलब यह होता है कि आपका फोन किसी भी चीज को डिस्प्ले करने से पहले उस प्रेम को 1 सेकंड में 90 बार Render कर रहा है। यह भले ही सुनने में आपको आसान लगे लेकिन यह काफी जटिल है और इसके लिए उच्च क्षमता वाले Hardware की जरूरत होती है।

हाल में हाल में ही कुछ ऐसे भी स्मार्टफोन आए हैं। जिनमें 120hz Refresh Rate का प्रयोग किया गया है यानी फोन एक सेकंड में प्रेम को 120 बार Render करते हैं। Refresh Rate और एंटर जाने के बाद आपके मन में यही सवाल होगा कि इससे क्या फायदा है।

फ़ोन में Refresh Rate के फायदे

Refresh कम हो या ज्यादा गुजर को क्या फर्क पड़ता है तो आपको बता दें कि बहुत ज्यादा फर्क पड़ता है। फोन या टीवी के डिस्प्ले पर जो आपको दिखाई देता है। मैन फ्रेम आधार पर आता है और प्रेम की स्पीड जितनी ज्यादा होगी चीजें उतनी ही स्पष्ट दिखाई देंगे अर्थात ज्यादा पर फेवरेट होने की वजह से आपको विजुअल काफी स्मूद दिखाई देगा।

और एनिमेशन में कोई लैग नहीं मिलेगा इसके साथ ही इस कॉलिंग बेहतर होगी और प्लेबैक भी काफी स्थिर रहेगा कई बार आपने देखा होगा कि गेम के ग्राफिक्स थोड़े हटते हैं या विजुअल से फटाफटा ऐसा लगता है।

ऐसे में इसके लिए फोन पर Procesoor और RAM ही हमेशा जिम्मेदार नहीं होते हैं। बल्कि Refresh rate का भी असर होता है ऐसे में अगर आप Heavy के गेम खेलते हैं तो या अंतर आप आसानी से समझ सकते हैं।

इस तकनीक से लैस फोन को देखकर आप कहेंगे कि यह फिलहाल 90Hz का उपयोग महंगे फोन में ही किया जा रहा है। और यह बहुत हद तक सही ही है लेकिन यह में की मांग बढ़ रही है।

और लोग कम बजट के फोन में भी हाई ग्राफिक वाले गेम खेलना चाहते हैं। ऐसे में Demand के साथ सप्लाई भी होगा और जब Protection बढ़ेगा तो जाहिर सी बात है। कि उसका असर कीमत पर भी होगा अतः साल भर के अंदर आपको 90Hz Display  वाले फोंस कम बजट में मिलने शुरू हो जाएंगे।

हमने ये ब्लॉग हिंदी भाषा में जानकारी शेयर करने के लिए बनाए है। मेरा मकसद है लोगो की Help करना। नयी पोस्ट अपडेट पाने के लिए Email subscribe & Social Media Join करे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here